Category: Festival

ब्रहमगौरी पूनम व्रत – Brahmagauri Poonam Vrat

ब्रहमगौरी पूनम व्रत  यह व्रत पौष मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को किया जाता है। इस दिन जगत जननी गौरी का षोडशोपचार पूजन किया जाता है। यह स्त्रियों का व्रत त्यौहार है। गौरी पूजन के प्रभाव से पुत्र – पति की आयु बढ़ती है तथा उनको स्वर्गलोक की प्राप्ति होती है।   ये भी पढ़ें – सफला एकादशी

Happy New Year 2019 Wishes Quotes SMS Images In Hindi

2018 अब कुछ दिनों में समाप्त होने वाला है इस लिए आप सभी को Bhakti Lyrics के Admin की  तरफ से Happy New Year 2019 की  बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनायें 2019 में  आपकी खुशियों में चार चाँद लग जाएँ  और आप आसमान  की बुलंदियों को छुए ऐसी हमारी भगवान से कामना है एक बार फिर से आप सभी को मेरे और

Happy New Year 2019 New Year Wishes Quotes SMS Hindi Shayari

आप सभी मित्रों को नया साल 2019 मुबारक हो। Happy New Year 2019 to all my friends. साल 2018 अंतिम क्षणों में चल रहा है। आशा करता हूं यह साल 2018 आप सभी का अच्छा  गुजरा होगा और अगर नहीं तो माफी चाहूँगा और भगवान से प्रार्थना है कि है प्रभु आने वाला साल 2019

Ekadashi 2019 | Ekadashi 2019 dates | Festivals 2019

Ekadashi 2019 dates Ekadashi vrat 2019 एकादशी एक मास में दो बार आती है – एक कृष्ण पक्ष में दूसरी शुक्ल पक्ष में। प्रत्येक ग्यारहवीं तिथि को हिन्दू पंचांग के अनुसार व्रत का विधान है। हिन्दू ग्रन्थों के अनुसार एकादशी व्रत धारण करने से भगवान त्रिलोकीनाथ श्री विष्णु जी अपने प्यारे भक्तों से खुश होकर

गोवर्धन पूजा कब और क्यों मनाया जाता ? गोवर्धन पूजा विधि – विधान

govardhan puja kyu manaya jata hai     यह त्यौहार दीपावली के दूसरे दिन कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को मनाया जाता है। इस दिन भगवान श्री कृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को अपनी कन्नी उंगली से उठाया था और सारे बृजवासियों की रक्षा की थी। गोवर्धन, आँगन मैं गोबर से मनाया जाता है।

deepavali kyu manaya jata hai deepavali puja kaise kare

नमस्कार दोस्तों! deepavali kyu manaya jata hai तथा deepawali kab manaya jata hai और deepavali puja kaise karni chahiye इसी के बारे मैं हम इस post मैं बात करेंगे। दीपावली कब और क्यों मनाई जाती है deepavali puja kaise karni chahiye                  > Satsang Bhajan Lyrics         

roop chaturdashi katha | रूप चतुर्दशी की कथा | नरक चतुर्दशी, छोटी दीपावली

रूप चौदस या छोटी दीपावली   यह त्यौहार दीपावली से एक दिन पहले मनाया जाता है। इस दिन को छोटी दीपावली या रूप चौदस भी कहते हैं। सुबह नहाने से पहले उबटन लगाते हैं। शाम को दिन छिपते ही बाहर के दरवाजे पर नाली के मुँह पर एक दीया जलाते हैं। एक चलनी मैं एक

dhanteras katha hindi | धनतेरस की कथा

Dhanteras Ki Katha   यह त्यौहार दीपावली से दो दिन पहले मनाया जाता है। इस दिन रात्रि को बाजार से आदमी घर के बर्तन, चाँदी के सिक्के, सोने की चीजें खरीदकर लाते हैं। रोशनी भी बाहर की शुरू हो जाती है, किसी के यहाँ दीपक भी जला देते हैं। दीपावली की पूजा का सामान भी

Ahoi Ashtami 2019 : ahoi ashtami vrat katha, ahoi ashtami vrat Vidhi

Ahoi Ashtami अहोई आठें का व्रत सन्तान की उन्नति, प्रगति और दीर्घायु के लिये होता है। यह व्रत कार्तिक माह में कृष्ण पक्ष की अष्टमी को किया जाता है। जिस दिन की दीपावली होती है, उससे ठीक एक सप्ताह पूर्व उसी दिन की अहोई अष्टमी पड़ती है।