Ganesh vandana lyrics | सब करो वन्दना गणपति की मिलकर के जय जयकार करो

Ganesh Vandana

तर्ज – तेरे पूजन को भगवान बना मन मन्दिर…

जय जय गणपति जी महाराज
प्रथम हम तुम्हें मनाते हैं।

Ganesh Vandana Lyrics, Ganpati Vandana Lyrics,

(1) गौरा जी तुम्हारी माता।
महादेव पिता जगदाता।।
सब देवों में सरताज , प्रथम हम तुम्हें मनाते हैं

ये भी पढ़ें – विजया दशमी पर कविता

(2) तुम मूसे की करौ सवारी।
त्यारी महिमा जग से न्यारी।।
तुम बिगड़े बनाते काज , प्रथम हम तुम्हें मनाते हैं

(3) ऋषि मुनि भी तुम्हें मनाते।
मोदक का भोग लगाते।।
भक्तों की रखते लाज, प्रथम हम तुम्हें मनाते हैं

ये भी पढ़ें – फिल्मी तर्ज भजन लिरिक्स इन हिंदी

(4) ये गोपाल मण्डल वारे।
आये हैं द्वार तुम्हारे।।
मन्डल मैं आओ आज , प्रथम हम तुम्हें मनाते हैं

Ganesh Vandana Song In Hindi

तर्ज – परदेशियों से ना अखियाँ लड़ाना..

दो. हम द्वार तुम्हारे आय गए कुछ ज्ञान हमको दीजिये।
भव सिन्धु में नैया पड़ी प्रभु पार इसको कीजिए।।
प्रभु पार इसको कीजिए हमको शरण में लीजिए।
सद्बुद्धि सद विचार का वरदान हमको दीजिये।।

ये भी पढ़ें – फिल्मी तर्ज भजन लिरिक्स

दो. जय गणेश गिरजा सुवन, मंगल मूल सुजान।
आज हमारे आयकर, प्रभु यहां करो कल्याण।।

तुम हो बड़े महान आज त्यारा वन्दन है।
भक्तों के भगवान आओ अभिनंदन है।।

ये भी पढ़ें – फ़िल्मी तर्ज भजन

फू.  मेरी भावनाओं में भक्ति जगाना।
भव मैं भटकते भक्त – 2 ये भगवन भलाना भलाना।।

कवित्त – माने महन्ताप ज्योति ज्वलतांप दाता निरंताप शायर की कविता का आदि न अंत हो।
भक्तों के सन्ताप माँ के पर तन्ताप, गणपति की रचना में आने हलन्त हो।।

ये भी पढ़ें – भक्ति सांग लिरिक्स

(1)एक दन्त दयावंत चार भुजाधारी।
मूषक सवारी वारी आयी तुम्हारी।।
करें त्यारी पूजा कोई-2 दूजी कलाना कलाना

(2) गणपति गणेश तुम तो गणों के गणेश हो।
दाता दया के स्वामी तुम्हीं देवेश हो।।
बनकर के नाथ नाविक-2 नौका चलाना चलाना..

ये भी पढ़ें – महिला दिवस पर गीत

(3)गणपति गणेश त्यारे अनेकों ही नाम हैं।
तुम्हीं में किशन है तुम्हीं में राम है।।
गोपाल मण्डल में आके ज्योति जलाना जलाना.

Ganpati Vandana

तर्ज – मिलता है सच्चा सुख केवल भगवान तुम्हारे..

दो. विघ्न हरण मंगल करन, गौरी सुत गजराज।
हृदय विराजो विघ्नेश्वर, आन बचाओ लाज।।

ये भी पढ़ें – सामाजिक गीत

फू. सब करो वन्दना गणपति की,
मिलकर के जय जयकार करो।
मिलकर के जय जयकार करो,
खिलकर के जय जयकार करो।।
बस भाव भरी ही भक्ति से, विघ्नेश्वर का सत्कार करो

ये भी पढ़ें – देश भक्ति गीत

(1) गौरा जी जिनकी माता हैं, महादेव पिता जगदाता हैं।
वो सबके भाग्यविधाता हैं उन चरणों को नमस्कार करो..

(2) जो चतुर्भुजी कहलाते हैं, चूहे पर चढ़कर आते हैं।
और मोदक जिनको भाते हैं ऐसे प्रभु से सब प्यार करो..

ये भी पढ़ें – चेतावनी भजन

(3) निर्धन की झोली ये भरते, अन्धे को नैन अर्पण करते।
कोड़ी की पीड़ा ये हरते, गर अर्जी बारम्बार करो….

(4) तुम पै फूल चढ़े और मेवा, सब देवों के हो तुम देवा।
पुरुषोत्तम अनिल की सेवा, हे नाथ आज स्वीकार करो।

ये भी पढ़ें – माता रानी भजन

ganpati vandana song in hindi

तर्ज – क्या खूब लगती हो बड़ी सुंदर दिखती हो

दो. गुरु आपके चरणों मे, मैंने दिनों शीश झुकाय।
नैया फँसी मझधार मैं,  दीजो पार लगाय।।

ये भी पढ़ें – सत्संग भजन

प्रथम मनाऊ गणेश को और दूजे भवानी अम्ब।
आय विराजो कण्ठ पै, कीनों कहाँ विलम्ब।।

फू. देवों के देव गणेश, मेरे काटो सर्व कलेश
शुभ कर्मो में सबसे पहले तुम्हें मनाते हैं
कीर्तन में प्रभु आ जाना, हम सभी बुलाते हैं।
देवों के देव……

ये भी पढ़ें – धनतेरस की कथा

(1) महादेव पिता हैं त्यारे, हैं त्यारे।
माँ गौरा के तुम हो प्रांणन प्यारे।।
करते हो बारे न्यारे, हाँ न्यारे।
सब देवों की आँखों के तुम तारे।।
ऋषि मुनि ज्ञानी ध्यानी, सब तुम्हीं को ध्याते हैं
कीर्तन में प्रभु………

ये भी पढ़ें – परमा एकादशी व्रत कथा

(2) गज बदन गले जै माला, जै माला।
हाय कैसा है प्यारा रूप निराला।।
तुम भक्तों के प्रतिपाला, प्रतिपाला।
सुशोभित है तन पर एक दुशाला।।
दीनबन्धु प्रभु दया के सागर, तुम्हें शीश झुकाते हैं
कीर्तन में प्रभु……

ये भी पढ़ें – निर्जला एकादशी व्रत कथा

(3) तुम चार भुजा हो धारी, हो धारी।
और चूहे की हरदम करो सवारी।।
रिद्धि सिद्धि संग सारी, संग सारी।
और बाँझों की सूनी गोद भरि डारी।।
कोड़ी को काया, निर्धन को माया, तुम्हीं गहाते हैं
कीर्तन में प्रभु………

ये भी पढ़ें – रमा एकादशी व्रत कथा

(4) त्यारे दर पै सवाली आये, हैं आये।
निज मन मैं ये बहुत मुरादें लाये।।
मत समझो इन्हें पराये, हाँ पराये।
अनिल भी तुमसे ध्यान लगावै।।
गोपाल मण्डल वाले हँस, त्यारी महिमा गाते हैं
कीर्तन में प्रभु………

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0 Shares